April 21, 2021

एडीजी जोन चिलुआताल और पीपीगंज थाने पर फरियादियों की सुनी समस्या- प्रियंका पांडेय

Spread the love

*एडीजी जोन चिलुआताल और पीपीगंज थाने पर फरियादियों की सुनी समस्या*

गोरखपुर। प्रदेश सरकार के मंशा के अनुरूप एक छत के नीचे आए हुए फरियादियों की समस्याओं को सुना जाए गुण दोष के आधार पर समस्याओं का निस्तारण किया जाए जिससे दूर दूर से आए हुए नागरिकों को इधर-उधर चक्कर न लगाना पड़े और थाने पर मौजूद राजस्व व अन्य संबंधित अधिकारियों के समक्ष अपनी समस्याओं को अवगत करा सके जिसके लिए प्रदेश सरकार ने महीने के दूसरे व चौथे शनिवार को थाना दिवस आयोजित करवाता है उसी के परिपेक्ष में आज चिलुआताल थाने पर एडीजी जोन अखिल कुमार की अध्यक्षता में आए हुए फरियादियों की समस्याओं को सुना गया थाने पर 5 फरियादी जमीन संबंधित अपनी समस्याओं को लेकर आए एक का मौके पर निस्तारण किया गया एडीजी जोन ने कहा कि राजस्व कानूनगो व लेखपाल बचे हुए फरियादियों की समस्याओं को रूबरू होते हुए मौके राजस्व टीम व बीट सिपाहियों उप निरीक्षक के साथ मुआयना करते हुए निरीक्षण कर गुण दोष के आधार पर फरियादियों की समस्याओं को निस्तारित करने का काम करें जिससे आए हुए फरियादियों को बार-बार थाने व उच्च अधिकारियों का चक्कर न लगाना पड़े राजस्व विभाग के वैगेर समस्याओं का समाधान करना संभव नहीं है राजस्व विभाग के लेखपाल और राजस्व निरीक्षक राजस्व विभाग के रीढ़ होते हैं भूमि विवाद संबंधित मामलों को राजस्व टीम को लेकर ही विवादित स्थल पर निरीक्षण करने के बाद ही मामले को निस्तारित किया जाए एडीजी जोन ने आगे कहा कि पुराने ढर्रे को बदलते हुए नए ढर्रे पर आना होगा हर छोटी-मोटी घटनाओं पर तत्काल घटनास्थल पर पहुंचे जिससे वादी को तत्काल न्याय मिल सके जिसके लिए उपनिरीक्षक व बीट सिपाहियों को थाना प्रभारी का हर स्तर पर सहयोग करना चाहिए तभी थाना व्यवस्थित सुचारु रुप से अपराध मुक्त थाना हो सकेगा। थाने पर साफ-सफाई व मेस में बेहतर क्वालिटी युक्त भोजन जवानों को उपलब्ध कराया जाए व थाने पर पिंक टॉयलेट की व्यवस्था सुनिश्चित किया जाए जिससे थाने पर आए हुए फरियादियों की समस्याओं के साथ-साथ उनके मूलभूत सुविधाओं को ध्यान दिया जाए थाने पर आने वाले हर पीड़ित के समस्याओं को अवगत कराते हुए रजिस्टर में दर्ज किया जाए चिलुआताल थाने की समस्याओं को समाधान करने के बाद एडीजी जोन ने पीपीगंज थाने पर आए हुए फरियादियों की समस्याओं को सुना और संबंधित को निस्तारण करने का आवश्यक दिशा निर्देश दिया।