November 28, 2021

आरक्षण से दूर होंगी जाति वैमनस्यता

Spread the love

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने हर वर्ग को आरक्षण के दायरे में लाकर गरीब सवर्णों को भी बड़ा तोहफा दिया है प्रधानमंत्री जी की इस दूरगामी सोच से ना केवल समाज में फैली आर्थिक असमानता दूर होगी बल्कि जातीय वैमनस्यता भी समाप्त होगी ।दलितों पिछड़ों के प्रचलित आरक्षण को कायम रखते हुए सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में 10% आरक्षण का लाभ मिलेगा यह स्वागत योग्य कदम उन सवर्णों का बड़ा सहारा है जो आर्थिक रूप से कमजोर होने के बावजूद आरक्षित वर्ग का लाभ प्राप्त नहीं कर पा रहे थे। सवर्णों को आर्थिक आधार पर दिए गए इस आरक्षण से प्रधानमंत्री जी और केंद्र सरकार की सबका साथ सबका विकास की अवधारणा और मेहनत दोनों परिलक्षित होती है। प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने जीएसटी की दर सीमा बढ़ाकर छोटे और मझोले कारोबारियों को बड़ी राहत दी है सरकार के इस साहसिक कदम से लाखों व्यापारियों को अपने व्यापार को आगे बढ़ाने में सहायता मिलेगी। जीएसटी सीमा 20 लाख से ₹40000 की, समाधान योजना की सीमा एक करोड़ से डेढ़ करोड़ रुपए किए जाने से कारोबारियों को तो लाभ होगा साथ में रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे उक्त बातें मैदागिन स्थित पराड़कर भवन में पत्रकार वार्ता में उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष व मंडल प्रभारी दीपक अग्रवाल ने तथा राजेश चौरसिया जिला अध्यक्ष ने संयुक्त रूप से पत्रकारों को दी। पत्रकार वार्ता में देवेंद्र सिंह नरसिंह अग्रवाल सहित कई अन्य लोग उपस्थित रहे।