अब तक की खबरे उत्तर प्रदेश से – अजय मिश्रा

Spread the love

लखनऊ

Kgmu रिजिडेंट डॉक्टर के प्रेजिडेंट की तरफ से की गई मांग

कोरोना के मरीजो का इलाज कर रहे डॉ को 10 मास्क N-95 प्रतिदिन दिए जाएं-डॉ राहुल भारत

10 सेट ग्लव्स, हेड कवर, शू कवर भी दिए जाएं-डॉ राहुल फीवर और कोरोना OPD के साथ चेन्जिन्ग रुम की व्यवस्था की जाए 10 सेट OT ड्रेस के साथ पर्याप्त सैनेटाईज़र उपलब्ध कराए जाएं जिन वस्तुओं की मांग की जा रही है वह सभी कोरोना ओपीडी में कार्यरत डॉक्टर्स व स्टाफ के लिए है-डॉ राहुल ड्यूटी रोस्टर को 1+4 पैटर्न या 1+3 पैटर्न मे लगाया जाय-डॉ राहुल नानक्लिनिकल विभागों के रेजिडेंट और इंटर्न को कोरोना ट्रीटमेंट की ट्रेनिंग दी जाए-डॉ राहुल जो लोग कोरोना वार्ड मे पोस्टेड हैं उनकी ड्यूटी 08 – 08 घन्टे के तीन शीफ्ट मे लगाने की मांग- डॉ राहुल उसी टीम की ड्यूटी पुरे एक सप्ताह लगातार लगाई जाए- डॉ राहुल एक सप्ताह की ड्यूटी पूरी होने पर सुपर डीलक्स प्राईवेट वार्ड या फिर ओल्ड अथवा न्यू गेस्ट हाउस मे आइसोलेट करके 2 सप्ताह रखा जाय-डॉ राहुल ट्रामा मे प्राथमिकता के आधार पर सबको ग्लव्स, हेड कवर, शू कवर और सैनेटाईज़र दिया जाए-डॉ राहुल

यदि संसाधन बचे तो अन्य लोगों को भी मुहैया कराए जाएं-डॉ राहुल कुछ विभागों मे बेवजह बिना काम के रेजिडेंट को बैठाया जा रहा है उसे बन्द किया जाए-डॉ राहुल कुछ विभाग मे सामुहिक एकेडमीक एक्टिविटी चल रही है जिस पर रोक पूणतः रोक लगाई जाए- डॉ राहुल |

बनारस में कोइरीपुर में घास खा रहे मुसहर समाज की खबर को छापने पर पत्रकार को डीएम की नोटिस निंदनीय: अजय कुमार लल्लू

पत्रकार विजय विनीत ने पत्रकारिता का धर्म निभाया है: अजय कुमार लल्लू

दोषी अधिकारियों पर कार्यवाही करें सरकार, पत्रकार विजय विनीत का उत्पीड़ित बर्दाश्त नहीं: अजय कुमार लल्लू गरीबों का मज़ाक उड़ना बंद करें और माफी मांगें वाराणसी डीएम : अजय कुमार लल्लू

लखनऊ, 26 मार्च 2020। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने बनारस में कोइरिपुर में घास खाने पर मजबूर मुसहर समुदाय के लोगों की खबर छापने पर पत्रकार विजय विनीत को वाराणसी डीएम द्वारा भेजे गए नोटिस की कड़ी निंदा की है। गौरतलब है कि लॉकडाउन के बाद वाराणसी के कोइरिपुर मुसहर बस्ती में तीन दिन से चूल्हा नहीं जला। बस्ती में सेनिटाइजर और मास्क की बात तो बेईमानी है, हाथ धोने को साबुन तक मयस्सर नहीं था। जनसंदेश अखबार के पत्रकार विजय विनीत की रिपोर्ट ने यह तथ्य उजागर किये तो वाराणसी डीएम ने उनको नोटिस भेज दिया।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने जारी प्रेसनोट में कहा कि विजय विनीत पत्रकारिता जगत में अपने ईमानदारी और बेहतरीन रिपोर्ट्स के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने ने लॉक डाउन के बाद हो रही समस्याओं को उजागर किया, प्रशासन और शासन को तो उनका शुक्रगुजार होना चाहिए लेकिन अब उनके ऊपर ही नोटिस भेजा गया है जोकि निंदनीय है। किसी भी प्रकार का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

अजय कुमार लल्लू ने कहा कि सुना है कि डीएम कौशलराज शर्मा जी अकड़ी घास को दाल बता रहे हैं और अपने बेटे के साथ उसको खाते हुए तस्वीर खिंचवाई है। सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों में साजिशन प्रसारित करवा रहे हैं। यह तो और ही ज्यादा अमानवीय है। अकड़ी घास अगर कोई खा रहा है तो उत्तर प्रदेश शासन और प्रशासन को शर्म आनी चाहिए और डीएम कौशल राज शर्मा को तत्काल माफी मांगना चाहिए।

Leave a Reply