May 28, 2022

*अखिलेश की सरकार में हुए सैकड़ों दंगे, आरोपी बचते रहे- परवेज सिद्दीकी*

Spread the love

*राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आरक्षण मोर्चा के अध्यक्ष परवेज सिद्दीकी ने कांग्रेस को दिया समर्थन*

*प्रशासन एवं चुनाव आयोग का सत्तारूढ़ दल पर कोई लगाम नहीं- नसीमुद्दीन सिद्दीकी*

*अखिलेश की सरकार में हुए सैकड़ों दंगे, आरोपी बचते रहे- परवेज सिद्दीकी*

लखनऊ। आज उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष व पूर्व विधायक श्री सतीश अजमानी एवं पूर्व मंत्री एवं उत्तर प्रदेश कांग्रेस मीडिया एवं कम्युनिकेशन विभाग के चेयरमैन श्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी के नेतृत्व में राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आरक्षण मोर्चा के अध्यक्ष श्री मोहम्मद परवेज सिद्दीकी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी को समर्थन देने की घोषणा की।

प्रेसवार्ता में श्री परवेज सिद्दीकी ने कहा कि मौजूदा सरकार में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में लोगों का बेहिसाब पलायन हुआ। लोगों में भय का माहौल पैदा किया गया। अखिलेश यादव पर आरोप लगाते हुए परवेज सिद्दीकी ने कहा कि अखिलेश यादव कभी भी मुसलमानों के हितैषी नहीं रहे। हमेशा मुसलमानों को झगड़ालू कौम बताते रहे हैं। इनके शासनकाल में सैकड़ों दंगे हुए और आरोपी बरी होते रहे। मुसलमान इनके लिए केवल वोट बटोरने का साधन मात्र रहा। उन्होंने कहा कि इस देश को यदि बचाना है तो हर वर्ग, हर धर्म के लोगों को कांग्रेस के साथ खड़ा होना पड़ेगा। श्रीमती प्रियंका गांधी जी का नेतृत्व ही उत्तर प्रदेश को एक नई दिशा दे सकता है।

प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए पूर्व मंत्री श्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी द्वारा आचार संहिता की धज्जियां उड़ाई जा रहीं हैं। प्रशासन पूरी तरह से प्रदेश और केन्द्र के दबाव में कार्य कर रहा है। अधिकारी पूरी तरह से सरकार के रिमोट कन्ट्रोल से संचालित हो रहें हैं। उन्होंने कहा गृहमंत्री अमित शाह कैराना में सैकड़ों लोगों के साथ कोविड प्रोटोकॉल तोड़कर प्रचार कर रहे हैं। क्या यह सत्तारूढ़ दल पर चुनाव आयोग कि मेहरबानी मानी जाये ?

श्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि कल बहराइच में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती एक सभागार में मनायी जानी थी, जिसकी क्षमता 500 कुर्सियों की है लेकिन कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मात्र 90 लोग उपस्थित थे। इसके बावजूद कोविड प्रोटोकॉल के नाम पर पुलिस द्वारा परेशान किया गया तथा कार्यक्रम नहीं करने दिया गया। क्या आचार संहिता केवल विपक्षी दलों के लिए है ? सत्तारूढ़ दल के लिए ऐसा प्रतीत होता है कोई कायदा कानून नहीं है। पूरी तरह से चुनाव आयोग सवालों के घेरे में है। एक सवाल के जवाब में श्री सिद्दीकी जी ने कहा कि अमर ज्योति का बुझाना निन्दनीय है। यह देश के शहीदों का अपमान है।

इस मौके पर उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया एवं कम्युनिकेशन विभाग के वाइस चेयरमैन श्री पंकज श्रीवास्तव, कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता श्री कृष्णकांत पांडेय, श्रीमती प्रियंका गुप्ता, श्री आसिफ रिजवी समेत मोहसिन खान एडवोकेट, डा. इसहाक मंसूरी , सोहेल खान, कारी यकीन, माजिद ठाकुर, आसिन अहमद, मुजाहिद, अखलाक, सतीश, मौलाना सद्दाम, राशिद, शेख तसौवर सिद्दीकी, शेख इकबाल, शकील अंसारी, सलीम मोहम्मद, मुफ्ती मुनीर समेत सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।